भाजपा पर राजस्थान सरकार गिराने की साजिश का आरोप, दो भाजपा नेता गिरफ्तार

कांग्रेस की शिकायत पर एसओजी ने की एफआईआर दर्ज। नोटिस जारी कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट व सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी को बयान देने के लिए बुलाया     

प्रदेश आज, जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा पर सरकार को गिराने का आरोप लगाया है। वहीं, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने शुक्रवार को विधायकों की खरीद-फरोख्त करके कांग्रेस सरकार गिराने की साजिश को लेकर मामला दर्ज कर दो भाजपा नेताओं को गिरफ्तार किया गया है।

एसओजी के अनुसार हथियारों की तस्करी से जुड़े मामले में दो मोबाइल नंबरों को सर्विलांस पर लिया हुआ था। इन नंबरों पर हुई बातचीत से सामने आया कि राज्यसभा चुनाव से पहले सरकार गिराने की साजिश रची गई थी। विधायकों को 25-25 करोड़ रुपए देने की भी जानकारी सामने आई है।

एफआईआर में बांसवाड़ा जिले में कुशलगढ़ से महिला विधायक रमीला खड़िया और बांसवाड़ा जिले से कांग्रेसी विधायक महेंद्रजीत सिंह मालवीय का नाम सामने आया है। इन्हें विपक्षी दल की तरफ से मोटी रकम का लालच दिया गया था। इसी बीच मामला राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तक पहुंच गया। इसके बाद कांग्रेस के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने राज्यसभा चुनाव से पहले एक लिखित शिकायत एसओजी जयपुर में दी।

शिकायत में आरोप है कि वर्तमान कांग्रेस सरकार के विधायकों और समर्थन दे रहे विधायकों को लालच देकर राज्यसभा चुनाव में मतदान को प्रभावित करने और सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की जा रही है। रिपोर्ट में दो मोबाइल नंबर दिए गए हैं। आरोप है कि इन्हीं नंबरों के जरिए विधायकों से खरीद-फरोख्त कर सरकार गिराने की कोशिश की गई थी।

विधायकों को प्रलोभन देकर राज्य की निर्वाचित कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने के प्रयास के आरोपों पर राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल (एसओजी) ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट व सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी को बयान देने के लिए बुलाया है।

वहीं, एसओजी ने शुक्रवार को एक एफआईआर दर्ज की थी। इस मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट व सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी को नोटिस जारी कर बयान देने के लिए बुलाया है। इस मामले में 12 विधायकों और अन्य लोगों को भी जल्द ही नोटिस जारी किए जा सकते हैं। इस बीच एसओजी ने उन दो लोगों को भी हिरासत में लिया है, जिनके फोन कॉल की निगरानी की गई थी।

सूत्रों की माने तो विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में ब्यावर के दो भाजपा नेताओं भरत मालानी और अशोक सिंह का नाम सामने आया है। इन्हें ब्यावर उदयपुर से एसओजी ने गिरफ्तार कर लिया है। राजस्थान एसओजी के अनुसार मालानी की कॉल रिकॉर्डिंग से पता चलता है कि विधायकों को खरीदने की कोशिश की जा रही थी।

वहीं, मामले में एडीजी स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप, अशोक कुमार राठोड़ का कहना है कि राजस्थान में राज्य सरकार के खिलाफ साजिश के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उनके नाम भारत मालानी और अशोक सिंह हैं। उनसे पूछताछ की जा रही है और कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा।

Please follow and like us:

अन्य ख़बरें