राम रहीम को सजा सुनाने वाले जज जगदीप सिंह ने लौटाई सरकारी बुलेट प्रूफ गाड़ी, जानें वजह…

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सजा सुनाने के बाद उनकी सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। सरकार द्वारा उन्हें जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी।

प्रदेश आज, चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम (Dera Sacha Sauda chief Gurmeet Ram Rahim) को सजा सुनाने वाले सीबीआई के जज जगदीप सिंह (CBI Judge Jagdeep Singh) ने सरकारी बुलेट प्रूफ टाटा सफारी गाड़ी (Bullet proof car) लौटा दी है। ऐसा उन्होंने गाड़ी के रफ़्तार न पकड़ पाने के चलते किया है। उन्होंने गाड़ी के साथ मिले सरकारी ड्राइवर को भी वापस कर दिया है।

ये भी पढ़ें :  दूसरे का मकान दिखाकर हड़पे 25 लाख, अदालत ने दूसरी बार भी नहीं दी अग्रिम जमानत 

सीबीआई के जज जगदीप सिंह और उनके पूरे परिवार की हरियाणा के सबसे संवेदनशील मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सजा सुनाने के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। उन्हें जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी। सरकार ने उन्हें चलने के लिए बुलेट प्रूफ टाटा सफारी गाड़ी भी उपलब्ध करवाई थी।

ये भी पढ़ें :  जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 14 यात्रियों से जब्त किया गया 32 किलो सोना   

बुलेट प्रूफ टाटा सफारी की वजह से उन्हें काफी परेशानी हो रही थी। यह गाड़ी अन्य गाड़ियों के साथ रफ्तार नहीं मिला पाती थी। वजन अधिक होने के कारण तेज गति से भगाने पर गाड़ी का दम फूल जाता था। सुरक्षा काफिले में गाड़ी पीछे न रह जाए, इसलिए इसे 30 से 40 की स्पीड पर दौड़ाया जाता था।

इतना ही नहीं पंचकूला में लोकल चलने के लिए बुलेट प्रूफ गाड़ी से जैसे-तैसे काम चल जाया करता था, लेकिन शहर से बाहर जाने के लिए गाड़ी फिट नहीं थी। बताया जाता है कि एक जगह पर गाड़ी खराब हो जाने के बाद ही उन्होंने गाड़ी और ड्राइवर दोनों वापस कर दिया है।

Please follow and like us:

अन्य ख़बरें